कश्यप

विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
कश्यप मुनि कय प्रतिमा

कश्यप ऋषि यक बैदिक ऋषि रहें। यनकय गिन्ती सप्तर्षि में कीन जात हय। हिन्दू मान्यता अनुसार यनकय बंसज से ही दुनिया आगे बढा हय।

यनकय पिता ब्रह्मा कय बेटवा मरीचि ऋषि रहें ।

परिचय[सम्पादन | स्रोत सम्पादित करैं]

कश्यप ऋषि प्राचीन बैदिक ॠषिन में प्रमुख ॠषि होँय जेकर जिकिर यक दांई ॠग्वेद मा भा है। अउर संहितन में भी यनकय नाँव मिलत है। यन्है हरदम धार्मिक औ रहस्य से भरा चरित्र वाला बताइ जात है औ बहुत प्राचीन कहि गा है। ऐतरेय ब्राह्मण कय अनुसार यन 'विश्वकर्मभौवन' नाँव कय राजा कय अभिषेक कराय रहें।

महाभारतपुराणन में असुरन कय सुरुवात औ वंशावली कय बर्णन में कहि गा है की ब्रह्मा कय सात मानस बेटवन में से एक 'मरीचि' रहें जे अपने इच्छा से कश्यप नांव कय प्रजापति बेटवा कय पैदा किहिन । कश्यप दक्ष प्रजापति कय 17 बिटियन से बियाह किहिन। दक्ष कय इ बिटियन से जे सन्तान पैदा भँय ओनकै नाँव निचे हय :