प्लेग

विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
प्लेग
Yersinia pestis fluorescent.jpeg
येर्सिनीया पेस्टीस २००x फ्लूर्सेन्ट रोसनी मा
दक्षतासंक्रामक रोग
लक्षनबोखार ,कमजोडी,मूड़ पिराब
सुरुवातकिटाणू कय सम्पर्क कय बाद मा १ से ७ दिन
मेरब्यूबोनिक प्लेग,सेप्टिसेमिक प्लेग
कारणयेर्सिनीया पेस्टीस नाँव कय किटाणु
रोग कय पहिचानखूँन कय जाँच औ लीम्फ नोड़ कय जाँच मा किटाणु कय पुस्टि
बचावप्लेग भैक्सिन
निदानएंटिबायटिक औ अउर मेर कय सहारा
दवाईजेन्टामाइसिन औ फ्लुरोक्विनोलोन
पूर्वानुमानलगभग १०% मरेक जोखिम(बिना उपचार कय )
बारम्बारतालगभग ६०० मनइ हर साल

प्लेग एक्ठु संक्रामक रोग होय जवन यर्सिनीया पेस्टिस नाँव कय बैक्टेरिया से लागत हय । यकरे लक्षन मा बोखार ,कमजोडि,मुड कय पीरा होत हय । किटाणु से संपर्क मा आवैक बाद मा १ से ७ दिन मा यकर लक्षन देखात हय ।यहमा लिम्फ नोड मा सूजन भि होइ सकत हय ,जबकि कवनो कवनो अवस्था मा मनइ कय तंतु करिय होइ जाला औ मनइ कय मउत होइ जाला ।[१]

बाहेरी लिंक[सम्पादन | स्रोत सम्पादित करैं]

वर्गीकरण
बाहेरी स्रोत

सन्दर्भ[सम्पादन | स्रोत सम्पादित करैं]

  1. Sebbane, F; Jarret, C.O.; Gardner, D; Long, D; Hinnebusch, B.J. (2006). "Role of Yersinia pestis plasminogen activator in the incidence of distinct septicemic and bubonic forms of flea-borne plague". Proc Natl Acad Sci U S A. 103 (14): 5526–5530. PMC 1414629. PMID 16567636. डीओआइ:10.1073/pnas.0509544103.