सिख

विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

भारत सरकार सिख का एक धरम के रूप मा मानत हय। ई हिन्दू धरम मा खामी गिनावत हुये अलग पंथ बनाय ले रहा। लिकिन जइसे ऊपर लिखा बा अब एहका अलग धरम माना जात है। इनकै पूज्य गुरु नानक हरे अहँय। यइ सब पंचकका अपने साथे रक्खत हँय।

पंचकका
केश
कृपाण
कंघा
कच्छा
कड़ा